साक्षी सुरक्षा योजना उत्तर प्रदेश राज्य के नागरिकों को सुरक्षा दिलाने के लिए शुरू की गई योजना है जिसके माध्यम से सुप्रीम कोर्ट व उच्च न्यायालय में चली आ रही शिकायतकर्ता की आपराधिक केस के गवाहों को सुरक्षा की परवाह किए बिना ही अपना काम कर सकेंगे।

जिसमें यदि विरोधी पक्ष के द्वारा किसी भी प्रकार से धमकाया जाएगा तो इस प्रकार की गतिविधि होने पर भी सजा का प्रावधान रखा गया है।

साथ ही साथ अपराधी केस के गवाहों को भी पुलिस सुरक्षा देने की बात की गई है ताकि भविष्य में उन्हें किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना ना करना पड़े।

साक्षी सुरक्षा योजना का मुख्य उद्देश्य शिकायतकर्ता को मिलने वाली धमकी या प्रतिहिंसा से सुरक्षा प्रदान करना है ताकि शिकायतकर्ता निडर होकर अपनी बात को आराम पूर्वक कह सके और सही तरह से न्याय दिलाने में मदद कर सके।

यह योजना मुख्य रूप से उन लोगों के लिए बनाई गई है, जो किसी मामले की शिकायत करना चाहते हैं लेकिन उन्हें किसी प्रकार की धमकी मिल रही होती है और वह इस वजह से डर जाते हैं।

इस योजना को 2018 से शुरू किया गया है और थोड़े ही दिनों में इसने अपना अच्छा कार्य किया है हालांकि बीच-बीच में इसके गलत तरीके से उपयोग करने के बारे में भी सोचा गया है। धीरे-धीरे इस योजना का विस्तार अन्य राज्यों में भी किया जाएगा।

अगर आप इस योजना का लाभ लेना चाहते हैं, तो सबसे पहले आपको सक्षम प्राधिकारी के कार्यालय में जाना होगा जहां पर आपको संबंधित जिले जहां पर अपराध किया गया हो वहां सक्षम प्राधिकरण के समक्ष निर्धारित प्रपत्र दायर करना होगा।

साक्षी सुरक्षा योजना 2024 लाभ, उद्देश्य, विशेषताएं अधिक जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?