आज के अपने इस आर्टिकल में हम परम्परागत कृषि विकास योजना के बारे में सभी जानकारी देंगे, जिससे अगर देश का कोई नागरिक इस योजना का लाभ लेना चाहता है तो वह इस योजना में आवेदन करके इस योजना का लाभ ले सके।

इस योजना को देश में ख़राब हो रही खेती की स्थिति को देखते हुए देश में चल रही सॉइल हेल्थ योजना के तहत शुरू किया गया है।

परम्परागत कृषि विकास योजना के तहत देश के किसानों को जैविक खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जायेगा और उनको सरकार द्वारा कई तरह की मदद भी प्रदान की जाएगी।

जैविक खेती करने के कई फायदे है जो इस योजना के तहत किसानों को बताये जायेगे जिससे किसान जैविक खेती करें।

परम्परागत कृषि विकास योजना के तहत किसानों को 50,000 रुपये हर महीने के हिसाब से 3 वर्ष तक प्रदान किये जायेगे।

परम्परागत कृषि विकास योजना में आवेदन करने के लिए आवेदक को सबसे पहले परम्परागत कृषि विकास योजना की ऑफिसियल वेबसाइट पर विजिट करना होगा

सरकार द्वारा दिए जाने वाले इस 50,000 रुपये में से 31000 जैविक उर्वरकों, कीटनाशकों, बीजों आदि के लिए और 8800 रुपये मूल्यवर्धन एवं वितरण के लिए और 3000 रुपये क्लस्टर निर्माण एवं क्षमता निर्माण के लिए किसान नागरिको को प्रदान किये जायेगे।

परम्परागत कृषि विकास योजना 2024 ऑनलाइन आवेदन अधिक जानकारी के लिए नीचे लिंक पर क्लिक करें?