भारत सरकार के द्वारा गायों के संरक्षण तथा स्वदेशी नस्लों के विकास के लिए समय-समय पर कई योजनाओं का संचालन किया जाता रहा है।

जिसके अंतर्गत को गाय का पालन करने वाले लोगों को सरकार की ओर से आर्थिक और सामाजिक सहायता मुहैया कराई जाती है।

गायों की विलुप्त हो रही नस्लों के संरक्षण के लिए हाल ही में सरकार ने Rashtriya Gokul Mission का आयोजन किया है।

इस योजना को खास तौर पर गायों के संरक्षण और नस्ल के विकास को वैज्ञानिक विधि से प्रोत्साहित करने के लिए किया गया है।

इस मिशन के अंतर्गत स्वदेशी गायों के संरक्षण और नस्ल के विकास को वैज्ञानिक विधि से प्रोत्साहित किया जाएगा।

सभी पशुपालन करने वाले नागरिको को लाभ प्रदान करने के लिए 2775 करोड़ रुपए का बजट रखा गया है।

राष्ट्रीय गोकुल मिशन के अंतर्गत स्वदेशी दुधारु पशुओं की अनुवांशिक संरचना में सुधार करने के लिए नस्ल सुधार कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे।

पशुओं की संख्याओं में वृद्धि होगी और दूध उत्पादन को बढ़ाने में कई तरह के प्रयास किए जाएंगे।

राष्ट्रीय गोकुल मिशन योजना से जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।