गुजरात राज्य सरकार अपने राज्य के गरीब नागरिको की आर्थिक स्थिति के सुधार लाने के लिए अनेक योजनाओँ का संचालन कर रही है।

गुजरात राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने राज्य के आर्थिक रुप से गरीब अनुसूचित जाति ओबीसी और पिछड़े वर्ग के नागरिकों के लिए मानव गरिमा योजना की शुरुआत की है।

इस योजना के अंतर्गत राज्य के इन गरीब नागरिक को की आर्थिक स्थिति में सुधार लाने के लिए और इनके व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए सरकार की तरफ से व्यवसाय से संबंधित उपकरण और ₹4000 की वित्तीय सहायता राशि प्रदान की जाएगी।

इस योजना के अंतर्गत राज्य के सब्जी विक्रेता, बढ़ई, माली जैसे अन्य प्रतिदिन कमाने वाले नागरिको को उनके कार्य से सम्बंधित उपकरण सरकार की तरफ से फ्री प्रदान किये जायेंगे।

इस योजना के अंतर्गत राज्य जो भी गरीब लाभार्थी प्रकरण प्रकार की तरफ से फ्री प्राप्त करना चाहते हैं उन्हें इस योजना में अपना आवेदन करना होगा। 

इस योजना का लाभ लेने के लिए लाभार्थी का गुजरात राज्य का स्थाई निवासी होना चाहिए।

manav Garima Scheme 2024 में अनुसूचित जाति वर्ग के नागरिक ही आवेदन कर सकते हैं।

इस योजना का लाभ सिर्फ गरीब नागरिकों को दिया जाएगा। जिसके लिए प्रदेश सरकार ने ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों के लिए 47000 रुपये तथा शहर में रहने वाले नागरिकों के लिए ₹60000 तक की वार्षिक आय निर्धारित की है। अगर इससे अधिक वार्षिक आय है तो वह इस योजना में आवेदन नहीं कर सकेंगे।

मानव गरिमा योजना से जुडी ज्यादा जानकारी के लिए नीचे क्लिक करे।